भ्रष्टाचार के खेल से निर्माण और मरम्मत हुई सड़कों से गायब हो रही डामर युक्त परत

ठेकेदारों द्वारा मानकों की अनदेखी कर पूरा किया जा रहा कोरम, बनने के साथ ही गायब हो रही डामर युक्त परत


पाटन। तहसील क्षेत्र की सड़कों के निर्माण एवं मरम्मतीकरण कार्य के नाम पर भ्रष्टाचार का खेल अनवरत जारी है। शासन प्रशासन  की ओर से बेखौफ ठेकेदारों द्वारा जहां मानकों को धता बताते हुए महज कोरम पूरा किया जा रहा है। वहीं शासन व प्रशासन के जिम्मेदार इस खेल से रूबरू होते हुए भी मौन व्रत धारण किए हुए हैं। ठेकेदारों की कारगुजारियों से क्षुब्ध क्षेत्र के लोग खुद को ठगा सा महसूस कर रहे हैं। 
    क्षेत्र के कई संपर्क मार्ग ऐसे हैं जिनकी मरम्मत व निर्माण हुए अभी 1 माह भी नहीं हुआ और सड़क से डामरीकृत परत लगभग गायब हो गई है। उदाहरण के तौर पर बहुउपयोगी गौरा-बिहार मार्ग की मरम्मत को लेकर पिछले काफी समय से स्थानीय लोगों द्वारा मांग की जा रही थी। लोगों में उस वक्त खुशी की लहर दौड़ गई जब सड़क के मरम्मत का कार्य शुरू हुआ था। ठेकेदार द्वारा सड़क के गड्ढे भरने के अलावा डामरीकृत परत डालने का कार्य किया गया। किंतु घटिया निर्माण सामग्री एवं मानको की अनदेखी के चलते हाल ही में बनकर कर तैयार हुई सड़क चंद दिनों में ही उखड़ गई। कुछ इसी तरह अनियमितताएं गौरा-पोखरी संपर्क मार्ग के निर्माण में भी बरती गई।करीब डेढ़ माह पूर्व ठेकेदार द्वारा इस मार्ग पर कराए गए कार्य में भी जमकर धांधली की गई। सड़क पर डाली गई डामरीकृत परत कुछ दिनों में ही सड़क का साथ लगभग छोड़ चुकी है। परत उखड़ने के बाद सड़क पर फैली बारीक गिट्टी अब इस मार्ग से गुजरने वाले स्कूली बच्चों व बाइक सवारों के लिए जानलेवा साबित हो रही है। गिट्टी के कारण फिसल कर गिरने से रोज दर्जनों लोग चुटहिल हो रहे हैं। स्थानीय लोगों ने सड़कों के निर्माण व मरम्मत के कार्य में अनियमितताओं की जांच कराए जाने की मांग विस अध्यक्ष व डीएम से की है। 


क्या कहते हैं ग्रामीण: 


स्थानीय निवासी अनुराग सिंह, विक्की शुक्ला, शुभम मिश्रा राहुल गौतम, कृपाशंकर विश्वकर्मा ने बताते हैं कि ठेकेदार द्वारा जैसे ही कार्य शुरू किया गया था, सड़क पर डाली गई डामरयुक्त परत उखड़ने लगी थी। निर्माण की गुणवत्ता को शिकायतें की गई जिम्मेदारों ने संज्ञान नहीं लिया।


 


Popular posts from this blog

नवाबगंज सीएचसीः स्टाप नर्स की लापरवाही क्षेत्र को पड़ सकती है भारी

लॉक डाउन घोषित होते ही पुलिस सख़्ती का दिखा असर, घरों में रहने को मजबूर हुवे लोग

कम्यूनिटी किचन के शुभारंभ पर ब्लॉक प्रमुख ने संभाली कढ़ाई तो अध्यक्ष ने बेली पूड़िया